अंतर्राष्टीय

अमेरिकी शेयर बाजार में गिरावट से लुढ़का जापान, चीन और भारत का बाजार

अमेरिकी शेयर बाजार में बुधवार को 8 महीनों की सबसे बड़ी गिरावट के बाद भारतीय शेयर बाजार पर गुरुवार सुबह प्रमुख सेंस्टिव इंडेक्स सेंसेक्स ने लगभग 1000 अंकों की भारी गिरावट के साथ शुरुआत की. अमेरिकी असर से भारतीय बाजार से पहले खुलने वाले सभी एशियाई बाजारों पर भारी दबाव देखने को मिला और जापान, चीन समेत हांगकांग और सिंगापुर के बाजार में जोरदार गिरावट के साथ कारोबार देखने को मिल रहा है.

इससे पहले कारोबारी दिन बुधवार को रिजर्व बैंक की रुपये को संभालने की कवायद के बीच शेयर बाजार ने मजबूती के साथ कारोबार किया और सेंसेक्य 460 और निफ्टी 160 अंकों की मजबूती के साथ बंद हुआ. लेकिन इस तेजी के बावजूद बुधवार अमेरिका के शेयर बाजार में दर्ज हुई गिरावट के के बाद एशिया समेत दुनियाभर के बाजारों ने जोरदार गिरावट के साथ कारोबार की शुरुआत की.

जापान के निक्केई में 4 फीसदी से अधिक की गिरावट

अमेरिकी गिरावट के असर से भारतीय बाजार के खुलने से पहले एशियाई बाजारों में जोरदार गिरावट दर्ज हुई. जापान के शेयर बाजार का प्रमुख सेंस्टिव इंडेक्स निक्केई 818 अंकों की बड़ी गिरावट के साथ खुला. निक्केई लगभग 3.6 फीसदी गिरावट के साथ 22,689 के स्तर पर कारोबार करता देखा गया. भारतीय बाजार खुलने के तुरंत बाद 9.57 मिनट पर निक्केई 4.15 फीसदी की गिरावट के साथ 22,531 के स्तर पर कारोबार कर रहा था.