अंतर्राष्टीय

पाक से 50 साल बाद अपने मायके भारत आईं आमना, अफसरों से जाहिर की ये तमन्ना

50 साल पहले दुल्हन बनकर पाकिस्तान गईं आमना (75) तब से अब पहली बार भारत आई हैं। उनकी तमन्ना है कि वे एटा जिले में मायके के उस आंगन और मोहल्ले पहुंचें जहां उनका बचपन बीता, पर वीजा में दर्ज न होने के कारण वे वहां नहीं जा सकतीं। हालांकि उन्हें उम्मीद है कि सरकार उनकी फरियाद सुनेगी। कई कोशिशों के बाद अब वह दो महीने का वीजा लेकर अलीगढ़ आ गई हैं। यहां भाई को देखते ही आमना की आंखें छलछला उठीं। दोनों एक -दूसरे से लिपट कर खूब रोये।

एटा के मारहरा इलाके में जन्मीं आमना बेगम का निकाह उनकी बुआ के बेटे के साथ हुआ था। इसके बाद वह शौहर के साथ पाकिस्तान चली गईं। हालांकि, फोन से परिजनों से बातचीत होती रहती है। एक दफा आमना भारत आने को थीं, लेकिन तबीयत खराब होने के बाद वह नहीं आ सकीं। गुरुवार रात जब आमना ने अपने भाई उस्मान को देखा, तो वह रोने लगीं। शुक्रवार की सुबह वह महानगर के भुजपुरा इलाके में अपने घर पहुंची हैं।