अंतर्राष्टीय

ग्वालियर । कौन रहेगा चंबल का एकलौता शेर ?(पार्ट 1)मध्य प्रदेश राजनीति के इस महाभारत अध्याय के चक्रव्यूह में क्या नरेंद्र सिंह तोमर रूपीअभिमन्यु प्रवेश करेगे।

। *अजय दुबे युवा पत्रकार की कलम से* आज मध्य प्रदेश राजनीति के शह और मात के खेल में जहां भाजपा के कुछ वरिष्ठ नेताओं ने अपनी शतरंज रूपी चाल में कमलनाथ को अल्प समय के लिए मात दे दी है इस खेल में नरोत्तम मिश्रा शिवराज सिंह गोपाल भार्गव कैलाश विजयवर्गी एक तरफ यह आशा रूपी किरण लगाकर बैठे है अब मध्य प्रदेश के नेतृत्व को वह संभालेंगे लेकिन कहा गया है कि हमेशा मध्य प्रदेश की भाजपा राजनीति का केंद्र चंबल बना गया है और इस केंद्र के द्वारा जहां एक तरफ नरेंद्र सिंह तोमर दीवार के पीछे से एक ऐसा खेल खेल रहे हैं जिसमें ज्योतिरादित्य सिंधिया उनका इस खेल में मदद कर रहे हैं जहां एक आशा की किरण यह बनी हुई है कि क्या मध्यप्रदेश के इस खेल में राजनीति के इस महाभारत के चक्रव्यूह अध्याय में नरेंद्र सिंह तोमर रूपी अभिमन्यु चक्र के अंदर प्रवेश करके क्या इस चक्रव्यूह को भेद पाएंगे या इस चक्रव्यू के अंदर फस कर अपने राजनीतिक भविष्य को पूर्ण रूप से खत्म कर लेंगे यहां पर एक ऐसी भी संभावना जताई जा रही है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया चाहते हैं कि चंबल में सिर्फ एक ही शेर है या तो वह खुद या फिर नरेंद्र सिंह तोमर है क्या वह स्वयं रहे इस दृष्टिकोण को देखते हुए अपनी सुरक्षा को महसूस करते हुए नरेंद्र सिंह तोमर के नाम को आगे बढ़ा कर मध्य प्रदेश राजनीति में एक नई हलचल पैदा कर दी है इससे यह भी अनुमान लगाया जाता है कि कहीं ना कहीं ज्योतिरादित्य आज नरेंद्र सिंह तोमर के समक्ष काम करने में अपने भावी राजनीतिक जीवन को कहीं ना कहीं असुरक्षित महसूस कर रहे हैं इस दौरान उन्होंने अपनी शतरंज की चाल से आजा नरेंद्र सिंह तोमर का नाम आगे बढ़ाकर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री का प्रबल दावेदार कर दिया है वहीं वे यह चाहते हैं कि दिल्ली के मोदी सरकार सत्ता में उनकी चंबल क्षेत्र से एक अकेली दावेदारी रहे आने वाला भविष्य इन सब पर तो को खुलेगा एवं मध्य प्रदेश की राजनीति में एक नया गर्माहट का माहौल उत्पन्न करेगा इस मध्य प्रदेश की कलयुग महाभारत मैं कृष्ण के द्वारा माया रूपी सुदर्शन चक्र का संचालन कहां से चल रहा है इसका अनुमान लगाना अभी कठिन है लेकिन यह संभावना जताई जा रही है कि सूत्रों के द्वारा शायद इस मायावती सुदर्शन चक्र का मालवा के किसी क्षेत्र से चलाया जा रहा है आप भविष्य में हमें यह जानने की जरूरत है कि मालवा का वह श्री कृष्ण कौन है और वह चंबल के उस अभिमन्यु को चक्रव्यू के अंदर भेज के क्या उसे वापस सुरक्षित बाहर निकाल पाता है या फिर चक्रव्यू के अंदर ही भेज कर उसे समाप्त करना चाहता है

Jantantr
जनतंत्र वेब न्यूज़ में खबर एवम विज्ञापन के लिये सम्पर्क करें -----9425121237
http://jantantr.com/