अपराध

रैगिंग के नाम पर की हैवानियत, स्कूल में नाबालिग छात्रों ने की सारी हदें पार

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। महाराष्ट्र के परभानी जिले के वैदिक स्कूल के 42 साल के निदेशक को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। 42 वर्षीय निदेशक के साथ दो अन्य नाबालिग छात्रों को रैगिंग के आरोप में हिरासत मे लिया गया है।

गिरफ्तार हुए निदेशक और दोनों नाबालिग छात्रों पर आरोप है कि इन्होंने कथित तौर पर दो अन्य किशोरों की रैगिंग की है और साथ ही उनके निजी अंगों को मांजे से भी बांध दिया। पीड़ितो की उम्र 9 से 10 साल है। पुलिस ने रविवार को यह जानकारी दी है।

इस बारे में परभानी के डीएसपी संजय परदेसी ने कहा कि 9-10 साल की आयु के दोनों पीड़ितों की कथित रैगिंग हुई और उनके गुप्तांगों में आरोपियो ने मांजा बांध दिया।

उन्होंने कहा कि यह घटना 26 अगस्त और 12 सितंबर के बीच मुंबई से 500 किलोमीटर दूर परभानी के बासमत रोड़ पर स्थित गणेश वेद पाठशाला में हुई है ।

उन्होंने आगे कहा कि इस घटना का खुलासा तब हुआ जब बुधवार को दोनों पीड़ितों का माता-पिता ने पुलिस से इस बारे में शिकायत की।

परदेसी ने कहा कि आरोपी छात्रों ने लड़कों की रैगिंग की, उनके गुप्तांगों को मांजे से बांध दिया और उनकी पिटाई भी की। इस घटना के कारण पीड़ितों के गुप्तांग जख्मी भी हो गए।